You cannot copy content of this page

NCERT class 10 English Footprints without Feet Chapter 10 summary The Book That Saved the Earth (notes) explained (translation) in hindi

The Book that Saved the Earth Summary In English

Scene 1
It is the time of twenty-fifth century. The place is of the Museum of Ancient History. It is Dept, of the Twentieth Century on the Planet earth. Historical is sitting on a table. There is a movie projector on the table.

Historian says how a book saved the Earth
Historian greets the curiosities of the twentieth century. She states that the twentieth century was often called the Era of the Book. In those days there were books about everything. They taught the people everything. But the strangest thing was that a book saved the Earth.

 

The book that saved the Earth
The story relates to the Martian invasion of 2014. But it never happened. A single book stopped it. It was a noble encyclopedia about rockets and missiles.

Think-Tank shown
The historian then turns on the projector. Spotlight comes on Think-Tank. He has a huge, egg-shaped head. He vyears a long robe decorated with stars and circles. Apprentice Noodle stands beside him at a switchboard. It is Mars Space Control. Think-Tank is its commander-in-chief.

Think-Tank and Noodle, his deputy
Noodle greets Think-Tank. He asks for his orders. Think-Tank asks Noodle to let him talk with their manned space probe to the Planet Earth. Think-Tank says they are soon going to take it over. He also asks for his mirror.

Space probe contacted
Think-Tank asks the mirror who is the most gifted being in the land. The mirror replies that he himself is that. He asks if the Martians are not a more handsome race than the ugly Earthlings. He asks Noodle to contact the space probe. They are going to attack the Earth before lunch.

Scene 2
The scene is of Mars Space Control and the Centerville Public Library, Captain Omega stands opening and closing card catalogue drawers. Lieutenant Iota is up left. Sergeant Oop is at right turtiing the pages of a book.

Talk between Think-Tank and Captain Omega
Noodle tells Think-Tank that he sees the space crew. He asks for making voice contact. Noodle calls for Captain Omega to give them their location. Captain Omega says that they have arrived on Earth without any incident.

About Location
Captain Omega asks Lt. Iota where they are. Lt. Iota can’t reply. She, however, says that there are about two thousand peculiar items (books). And the place must be some storage bam. Oop adds that he has been to seven galaxies. But he has never seen anything like those things. He calls them ‘hats’. Omega asks for Think-Tank’s advice. Think-Tank looks at the ‘books’. He calls them ‘eatables’ and they are in a refreshment stand.

Books as ‘sandwiches’
Think-Tank says that what they have in their hands are ‘sandwiches’. They are the main food of Earth diet. Think-Tank orders Omega to eat it (book) to confirm. Omega is ready to eat it. But he asks Lt. Iota to eat as he hasn’t taken his breakfast yet.

Wonder at ‘sandwiches’
Iota finds it a great honour to be the first Martian to eat a ‘sandwich’. She orders Sergeant Oop to eat it. Oop bites on a corner of the book. He pretends to chew and swallow. Think-Tank asks if it was delicious. Oop says it was. He wonders how the Earth people eat it without water.

Think-Tank’s version about ‘sandwiches’
Noodle informs Think-Tank that a bit of data floated into his mind. He tells that the Earthlings did not eat them. But they used them as communication devices. Think-Tank also calls them these as he is never wrong. He orders Omega to listen to them (books).

Opinion about Earthlings
Think-Tank asks Omega if he listens something from them. Omega replies that they may not be on the correct frequency. Think- Tank calls that the Earthlings have sharper ears.

‘Sandwiches’ as eye communication
Noodle says that he has a piece of information in his mind. He says that the Earthlings opened them and watched them. Think-Tank adds that those ‘sandwiches’ are for eye communication. He asks Captain Omega to take three ‘sandwiches’ and tell him what he sees in them.

Vitamins for increasing intelligence
Omega replies that they have pictures of Earthlings. They have some sort of code, lines and dots with pictures. Think-Tank asks Omega to take vitamins to increase their intelligence. He asks him to unfold those pictures etc. Omega swallows vitamins.

How ‘sandwiches’ mean to Think-Tank
Think-Tank asks Omega to decipher the code in the ‘sandwiches’. Omega reads the nursery rhyme ‘Mistress Mary…’. Think-Tank wonders how the Earthlings have combined agriculture and mining. They also grow explosives. He asks Noodle to contact their invasion fleet. Noodle replies that they are ready to take over the Earth.

Nursery rhyme as ‘new information’
Think-Tank asks Noodle to tell the invasion fleet to hold. New information has come to him. Think-Tank asks Iota to transcribe the information. She reads the nursery rhyme ‘Hey diddle … spoon’. Oop laughs but Think- Tank asks to stop laughing.

Think-Tank’s meaning about Earthlings
Think-Tank says that it is more and more alarming. The Earthlings have reached a higher level of civilisation. They have taught their domesticated animals musical culture and space techniques. They may be launching an interplanetary attack of millions of cows. He asks to notify the invasion fleet. No invasion today. He asks Oop to transcribe the next code.

Another nursery rhyme as a warning to capture Mars
Oop reads the next nursery rhyme ‘Humpty Dumpty … again’. He shows the picture of Humpty Dumpty also. Think-Tank screams. He says that it is he/himself. It is his great and mighty balloon brain. He says that the Earthlings have seen him. They are after him. They are planning to capture him and Mars Central Control.

Think-Tank decides to flee Mars
Think-Tank asks Noodle to prepare a space capsule for him. He must escape without delay. They are coming to Mars to capture it. Noodle asks Think-Tank where they shall go. Think- Tank replies they will go a hundred million miles from Mars. It is Alpha Centuri. It is a hundred million miles away.

Historian states how a book saved the world from Martian invasion
Historian chuckles in humour. She says that one dusty old book of nursery rhymes saved the world from a Martian invasion. They resumed contact with Mars in the twenty-fifth century. They became friends. Think-Tank was replaced by Noodle. They taught the Martians the difference between books and sandwiches. They established a model library in their capital city of Marsopolis. But the Martians can never read one book. It is Mother Goose.

The Book that Saved the Earth Summary In Hindi

दृश्य 1
यह पच्चीसवीं शताब्दी का समय है। पुरातन इतिहास का अजायबघर, स्थान है। यह पृथ्वी ग्रह पर बीसवीं शताब्दी का कक्ष है। हिस्टोरियन मेज पर बैठी हुई है। मेज पर मूवी प्रोजैक्टर रखा हुआ है।

हिस्टोरियन बताती है कि कैसे पृथ्वी को एक पुस्तक ने बचाया
हिस्टोरियन बीसवीं शताब्दी की उत्सुकताओं का स्वागत करती है। वह कहती है कि बीसवीं शताब्दी को प्रायः पुस्तक का समय कहा जाता था। उन दिनों हरेक वस्तु के बारे में पुस्तकें होती थीं। वे मनुष्यों को हरेक वस्तु पढ़ाती थीं। परन्तु सबसे आश्चर्यजनक बात थी कि एक पुस्तक ने पृथ्वी को बचा लिया।

पुस्तक जिसने पृथ्वी को बचाया
कहानी का सम्बन्ध 2014 के मंगल ग्रह द्वारा आक्रमण से है। परन्तु यह कभी नहीं हुआ। एक अकेली पुस्तक ने इसे रोक दिया। यह राकेटों और प्रक्षेपास्त्रों के बारे में एक महान ग्रंथ था।

थिंक-टैंक का दिखाया जाना
फिर हिस्टोरियन प्रोजैक्टर की तरफ मुड़ती है। प्रकाश-बिन्दु थिंक-टैंक पर आती है। उसका अण्डे के आकार का भारी सिर है। वह सितारों और घेरों से सजी हुई लम्बी पौशाक पहनता है। शिक्षार्थी नूडल स्विचबोर्ड पर उसके बराबर में खड़ा है। यह मार्स स्पेस कंट्रोल है। थिंक-टैंक इसका कमाण्डर-इन-चीफ है।

थिंक-टैंक और उसका उपायुक्त नूडल
नूडल थिंक-टैंक का स्वागत करता है। वह उसके आदेशों के लिए कहता है। थिंक-टैंक नूडल को कहता है कि वह उसकी ग्रह पृथ्वी पर गए मानव द्वारा चालित आकाश यान से बात कराए। थिंक-टैंक कहता है कि वे शीघ्र ही उस पर कब्जा करने जा रहे हैं। वह अपने शीशे के लिए भी कहता है।

आकाश यान के साथ सम्बंध स्थापित
थिंक-टैंक शीशे से पूछता है कि भूमि पर कौन सबसे उत्तम व्यक्ति है। शीशा कहता है कि वह स्वयं ही है। वह पूछता है कि क्या मंगल ग्रह के वासी भद्दे पृथ्वीवासियों से अधिक सुन्दर नहीं हैं। वह नूडल को आकाश यान के साथ सम्बंध बनाने के लिए। कहता है। वे लन्च से पहले पृथ्वी पर आक्रमण करने जा रहे हैं।

दृश्य 2
दृश्य मार्स स्पेस कंट्रोल और सैन्टरविल पब्लिक लायब्रेरी का है। कैप्टन ओमेगा कार्ड सूचीपत्र की दरानें खोलता और बन्द करता हुआ खड़ा है। लेफ्टीनेन्ट आयोटा बाईं तरफ है। सरजेन्ट ऊप एक पुस्तक के पन्नों को उलटता हुआ दाईं तरफ है।

थिंक-टैंक और कैप्टन ओमेगा के बीच बातचीत
नूडल थिंक-टैंक को बताता है कि वह आकाशयान चालक दल को देख रहा है। वह आवाज जोड़ने के लिए कहता है। नूडल कैप्टन ओमेगा को अपने स्थान के बारे में बताने के लिए कहता है। कैप्टन ओमेगा कहता है कि वे बिना किसी घटना के पृथ्वी पर पहुँच गए हैं।

स्थान के बारे में
कैप्टन ओमेगा लेफ्टीनेन्ट आयोटा से पूछता है कि वे कहाँ पर हैं। लै. आयोटा उत्तर नहीं दे सकती। फिर भी वह बताती है कि वहाँ पर लगभग दो हजार अजीब वस्तुएँ (पुस्तकें) हैं। और स्थान कोई अनाज भण्डारन हो सकता है। ऊप कहता है कि उसने सात आकाशगंगाएँ देखी हैं। परन्तु उसने उन वस्तुओं जैसी कोई वस्तु कभी नहीं देखी है। वह उन्हें ‘हैट’ कहता है। ओमेगा थिंक-टैंक की सलाह के लिए कहता है। थिंक-टैंक ‘पुस्तकों’ पर देखता है। वह उन्हें ‘खाने की वस्तुएँ’ कहता है और वे जलपान गृह में हैं।

पुस्तकें ‘सैंडविच’ के रूप में
थिंक-टैंक कहता है कि जो कुछ उनके हाथों में है वे ‘सैंडविच’ हैं। वे पृथ्वी के व्यक्तियों का मुख्य भोजन हैं। थिंक-टैंक ओमेगा को इसकी पुष्टि करने के लिए उसे (पुस्तक को) खाने के लिए कहता है। ओमेगा इसे खाने के लिए तैयार है। परन्तु वह लै. ओमेगा को खाने के लिए कहता है क्योंकि उसने अभी तक नाश्ता नहीं किया है।

‘सैंडविचों’ पर आश्चर्य
आयोटा इस ‘सैंडविच’ के खाने में पहला मार्शियन बनने में महान सम्मान मानती है। वह सरजैंट ऊप को इसे खाने का आदेश देती है। ऊप, पुस्तक के एक कोने को दाँतों से काटता है। वह चबाने और निगलने का बहाना करता है। थिंक-टैंक पूछता है कि क्या यह स्वादिष्ट है। ऊप कहता है कि, हाँ यह स्वादिष्ट है। उसे आश्चर्य है कि पृथ्वी के प्राणी इसे पानी बिना कैसे खाते हैं।

थिंक-टैंक की ‘सैंडविचों’ के बारे में सोच
नूडल थिंक-टैंक को बताता है कि उसके मन में थोड़ा-सा डाटा आया है। वह बताता है कि पृथ्वीवासी इन्हें खाते नहीं थे। परन्तु वे उन्हें संचार के यंत्रों के रूप में प्रयोग करते थे। थिंक-टैंक भी इन्हें यही मानता है क्योंकि वह कभी गलत नहीं होता। वह ओमेगा को उन (पुस्तकों) को सुनने के लिए कहता है।

पृथ्वीवासियों के बारे में राय
थिंक टैंक ओमेगा से पूछता है कि क्या वह उनसे कुछ सुन रहा है। ओमेगा उत्तर देता है कि वे सम्भवतः सही तरंग पर नहीं हैं। थिंक-टैंक कहता है पृथ्वीवासियों के तेज कान होते हैं।

‘सैंडविच’ आँख संचार के रूप में
नूडल कहता है कि उसके मन में एक सूचना है। वह कहता है। |कि पृथ्वीवासियों ने उन्हें खोला और देखा था। थिंक-टैंक कहता है। कि वे ‘सैंडविच’ आँख संचार के रूप में हैं। वह कैप्टन ओमेगा को तीन ‘ सैंडविच’ लेने और उसे बताने के लिए कहता है कि वह इनमें क्या देखता है।

बुद्धि बढ़ाने के लिए विटामिन
ओमेगा उत्तर देता है कि उनके पास पृथ्वीवासियों की तस्वीरें हैं। उनके पास एक प्रकार की कोड, लाईनें और तस्वीरों के साथ-साथ बिन्दु हैं। थिंक-टैंक ओमेगा को उन विटामिनों को अपनी बुद्धि बढ़ाने के लिए लेने को कहता है। वह उसे उन तस्वीरों आदि के बारे में बताने के लिए कहता है। ओमेगा विटामिनों को निगल जाता है।

थिंक-टैंक के लिए सैंडविच’ का अर्थ
थिंक-टैंक ओमेगा को ‘सैंडविच’ के कोड को तोड़ने के लिए कहता है। ओमेगा नर्सरी तुक ‘मिस्ट्रैस मैरी …’ पढ़ता है। थिंक टैंक को आश्चर्य है कि पृथ्वीवासियों ने कृषि और खानों को कैसे इकट्ठा कर लिया है। वे विस्फोटों को उगाते भी हैं। वह नूडल को उनके आक्रमण आकाशयानों के साथ सम्पर्क करने के लिए कहता है। नूडल उत्तर देता है कि वे पृथ्वी पर कब्जा लेने के लिए तैयार हैं।

नर्सरी तुक नई सूचना के रूप में
थिंक-टैंक नूडल को आक्रमण आकाशयानों को रोकने के लिए कहता है। उसके पास नई सूचना आई है। थिंक-टैंक आयोटा को उस सूचना का अर्थ निकालने के लिए कहता है। वह नर्सरी तुक ‘हे डीडल … स्पून’ पढ़ती है। ऊप हँसता है परन्तु थिंक-टैंक हँसना रोकने के लिए कहता है।

थिंक-टैंक का पृथ्वीवासियों के बारे में अर्थ
थिंक-टैंक कहता है कि यह और भी अधिक चेतावनीजनक है। पृथ्वीवासी सभ्यता के उच्च स्तर पर पहुँच गये हैं। उन्होंने अपने सिधाए हुए जानवरों को संगीत संस्कृति और आकाशीय तकनीकों को पढ़ा दिया है। वे दस लाख गायों का एक अन्तर्ग्रहीय आक्रमण आरंभ करने वाले हैं। वह आक्रमण आकाशयानों को यह बताने के लिए कहता है। आज आक्रमण नहीं होगा। वह ऊप को अगले कोड का अर्थ बताने के लिए कहता है।

मार्स को पकड़ने की दूसरी नर्सरी तुक चेतावनी के रूप में
ऊप अगली नर्सरी तुक ‘हम्पटी डम्पटी … अगेन’ पढ़ता है। वह हम्पटी डम्पटी की तस्वीर भी दिखाता है। थिंक-टैंक चिल्लाता है। वह कहता है कि वह यह स्वयं ही है। यह उसका महान और ताकतवर गुब्बारानुमा दिमाग है। वह कहती है कि पृथ्वीवासियों ने उसे देख लिया है। वे उसके पीछे हैं। वे उसे और मार्स सैन्ट्रल कन्ट्रोल को पकड़ने की योजना बना रहे हैं।

थिंक-टैंक का मार्स से भागने का निर्णय
थिंक-टैंक नूडल को उसके लिए आकाश कैप्स्यूल तैयार करने के लिए कहता है। उसे बिना देरी से बचकर भागना चाहिए। वे मार्स पर इस पर कब्जा करने के लिए आ रहे हैं। नूडल थिंक-टैंक से पूछता है कि वे कहाँ जाएँगे। थिंक टैंक उत्तर देता है कि वे मार्स से करोड़ों मील दूर चले जाएँगे। वह अल्फा सैन्चुरी है। यह करोड़ों मील दूर है।

हिस्टोरियन बताती है कि कैसे एक पुस्तक ने संसार को मार्स के आक्रमण से बचाया।
हिस्टोरियन हास्य रूप में अपने दाँत निपोरती है। वह कहती है कि नर्सरी तुक की एक धूलभरी पुरानी पुस्तक ने संसार को मार्स के आक्रमण से बचाया। उन्होंने पच्चीसवीं शताब्दी में मार्स के साथ सम्पर्क स्थापित किया। वे मित्र बन गए। थिंक-टैंक का स्थान नूडल ने ले लिया। उन्होंने मार्क्सवासियों को पुस्तकों और सैण्डविचों के बारे में अन्तर को पढ़ाया। उन्होंने उनकी राजधानी शहर मार्मोपोलिस में एक मॉडल लायब्रेरी स्थापित की। परन्तु मार्सवासी एक पुस्तक कभी नहीं पढ़ सकते। यह है मदर गूज।।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Free Web Hosting