You cannot copy content of this page

NCERT class 10 English Literature Chapter 1 summary Two Gentlemen of Verona (notes) explained (translation) in hindi

Two Gentlemen of Verona Summary In English

Introduction
‘Two Gentlemen of Verona’ is all about the two teenage brothers who prove that they are more than their age in gentlemanliness and humanism. Despite their boyish nature they act like adults and brave the struggles of life. How they look after their sister is just rare. It shows great human values.

The narrator’s meeting the two brothers
The narrator says that as they drove through the foothills of the Alps two boys stopped them on the outskirts of Verona (Italy). They were selling wild strawberries. The narrator’s driver asked him not to buy these.

 

All about them
Nicola and Jacopo, 13 and 12 respectively, were real brothers. They wore shabby clothes. Their appearance strangely attracted the narrator as they approached the car. Next morning they saw them shoe-shining.

Two brothers’ doing things
The narrator asked them that he thought they picked fruit for a living. Nicola said that they did many jobs. These were like shining shoes, hawking newspapers, conducting tourists and running errands. It was all for earning money.

Meeting Nicola and Jacopo again
One night the narrator and his driver met Nicola and Jacopo in a windy and deserted square. It was midnight and Jacopo was asleep resting upon Nicola’s shoulder. The narrator asked them if they needed to work hard. But they declined.

Meeting again in the square
Next morning the narrator met them again in the square. He asked Nicola that the way they worked they could be earning a lot. But they ate little. He asked what they did with their money. He suggested that they must be saving up to emigrate to America. Nicola replied they would love to go there but they had other plans. The narrator told them that he was going on next Monday and asked if he could do anything for them.

Going to Poleta in the countryside
Jacopo replied that every Sunday they went to Poleta, 30 km from there. He asked if they could go in his car. The narrator drove them in the car on Sunday. Nicola told him that he didn’t want to trouble him.

On reaching Poleta
They reached Poleta in the afternoon. The narrator thought that there would be their humble dwelling place. But it was a villa where they stopped which amazed the narrator. He was told to go to the cafe in the village for a drink. They would take only an hour to reach there.

Narrator’s seeing Lucia, sister of Nicola and Jacopo
The narrator went inside it and saw a nurse there. She took him to the lobby. The villa was a hospital. The narrator was amazed to see Nicola and Jacopo seated at the bedside of a young girl. The girl resembled them. The nurse told the narrator that the girl was Lucia, sister of Nicola and Jacopo. The nurse told the narrator everything about them.

The past miseries of Nicola and Jacopo
The nurse told the narrator that their father was a well-known singer. He had been killed in war. They had always known a comfortable and cultured life. Lucia had been training as a singer. They suffered from starvation and cold winter due to war. For three months they had kept themselves alive in a shelter. The boys grew to hate the Germans. After the war was over they came back to their sister. Before that they had joined the resistance movement against the Germans. They found their sister suffering from TB. They got her admitted there for treatment.

Greatness of the boys for humanity
The nurse further told that both the boys worked very hard and earned money. They made regular payments to the hospital. Since work was hard in Verona they had to go to other places for work. Their devotion touched the narrator.

Two Gentlemen of Verona Summary In Hindi

प्रस्तावना
“Two Gentlemen of Verona fansite atat बारे में है जो यह सिद्ध करते हैं कि वे मानवता व शराफत में अपनी आयु से अधिक हैं। उनके बच्चों जैसे स्वभाव के बावजूद वे प्रौढ अवस्था के व्यक्तियों के अनुरूप व्यवहार करते हैं और जीवन के संघर्षों का सामना करते हैं। वे अपनी बहन की कैसे सेवा करते हैं यह असाधारण है। यह मानवता के महान मूल्य दिखाता है।

वर्णनकर्ता की दो भाइयों से मुलाकात
वर्णनकर्ता कहता है कि जैसे वे Alps की निचली पहाड़ियों | के बीचों-बीच जा रहे थे दो बच्चों ने उन्हें Verona (Italy) | के बाहर वाले भागों में रोक लिया। वे जंगली स्ट्रॉबरी बेच रहे थे। | वर्णनकर्ता के ड्राइवर ने उसे इन्हें न खरीदने के लिये कहा।

सब उन्हीं के बारे में
तेरह और बारह वर्ष के Nicola and Jacopo सगे भाई | थे। उन्होंने गन्दे कपड़े पहन रखे थे। उनके दिखावे ने जैसे वे कार के नजदीक आये वर्णनकर्ता को अद्भुत तरीके से आकर्षित कर लिया। अगली सुबह उन्होंने उन्हें जूते पालिश करते देखा।

सब उन्हीं के बारे में
तेरह और बारह वर्ष के Nicola and Jacop0 सगे भाई | थे। उन्होंने गन्दे कपड़े पहन रखे थे। उनके दिखावे ने जैसे वे कार के नजदीक आये वर्णनकर्ता को अद्भुत तरीके से आकर्षित कर लिया। अगली सुबह उन्होंने उन्हें जूते पालिश करते देखा।

दोनों भाइयों का कार्य करना।
वर्णनकर्ता ने उनसे कहा कि उसने सोचा था कि वे फल तोड़ कर आजीविका कमाते हैं। Nicola ने कहा कि उन्होंने कई कार्य किये। ये थे जैसे जूते पालिश करना, समाचार पत्र बेचना, यात्रियों को दूर कराना और छोटे-मोटे कार्य करना। यह सब पैसे कमाने के लिए था।

Nicola और Jacopo से फिर मुलाकात
एक रात वर्णनकर्ता और उसके ड्राइवर को Nicola और Jacop० सुनसान और हवादार स्केयर में मिले। आधी रात का समय था और Jacop0, Nicola के कन्धे पर आराम करते सो रहा था। वर्णनकर्ता ने उनसे पूछा कि क्या उन्हें कड़ी मेहनत करनी | पड़ती थी। परन्तु उन्होंने इनकार कर दिया।

स्केयर में फिर मुलाकात
अगली सुबह वर्णनकर्ता उन्हें स्केयर में फिर मिला। उसने Nicola से पूछा कि जिस प्रकार वे कार्य कर रहे थे वे काफी कमा रहे होंगे। परन्तु वे बहुत कम खाते थे। उसने पूछा कि वे अपने पैसों का क्या करते थे। उसने सुझाव दिया कि वे अमरीका जाकर बसने के लिये बचत कर रहे होंगे। Nicola ने उत्तर दिया कि वे वहाँ जाना चाहेंगे परन्तु उनकी दूसरी योजनायें थीं। वर्णनकर्ता ने | उन्हें बताया कि वह अगले सोमवार जा रहा था और पूछा कि क्या | वह उनके लिये कुछ कर सकता है।

देहात में Poleta जाना।
Jacopo ने उत्तर दिया कि हरेक इतवार वे वहाँ से 30 किमी. | दूर Poleta में जाते हैं। उसने पूछा कि क्या वे उसकी कार में जा | सकते हैं। वर्णनकर्ता उन्हें इतवार को कार में ले गया। Nicola ने उसे कहा कि वह उसे तकलीफ देना नहीं चाहता है।

Poleta पहुँचना
दोपहर बाद वे Poleta पहुँच गये। वर्णनकर्ता ने सोचा कि वहाँ पर उनकी एक साधारण सी रहने की जगह होगी। परन्तु जहाँ वे रुके यह तो एक villa था जिसने वर्णनकर्ता को आश्चर्यचकित | कर दिया। उसे कहा गया कि कुछ पीने के लिये वह गाँव में कैफे | में जा सकता था। वहाँ पहुँचने में उन्हें केवल एक घण्टा लगेगा।

वर्णनकर्ता का Nicola और Jacop0 की बहन Lucia को देखना
वर्णनकर्ता इसके अन्दर चला गया और वहाँ एक नर्स को देखा। वह उसे लॉबी में ले गई। Villa एक हस्पताल था। वर्णनकर्ता Nicola और Jacopo को एक जवान लड़की के बिस्तर के साथ बैठे देखकर आश्चर्यचकित रह गया। लड़की की शक्ल उनसे मिलती थी। नर्स ने वर्णनकर्ता को बताया कि लड़की Nicola और Jacop0 की बेहन Lucia थी। नर्स ने वर्णनकर्ता को उनके बारे में सब कुछ बताया।

Nicola और Jacop0 के भूतकाल के दुख
नर्स ने वर्णनकर्ता को बताया कि उनका पिता एक जाना-पहचाना गायक था। वह युद्ध में मारा गया था। उन्होंने हमेशा एक आरामदेह | और संस्कृति वाला जीवन जीया था। Lucia गायक की ट्रेनिंग ले। रही थी। उन्होंने युद्ध के कारण भुखमरी और ठण्डी शर्द ऋतु से दुख उठाये। तीन महीनों तक उन्होंने एक शरण स्थली में स्वयं को जीवित रखा था। लड़के जर्मन वालों से घृणा करते बड़े हुए। युद्ध की समाप्ति पर वे अपनी बहन के पास वापस आ गये। उससे पहले उन्होंने जर्मन वालों के विरुद्ध प्रतिरोधी आन्दोलन में भाग लिया था। उन्होंने अपनी बहन को TB से पीड़ित पाया। उन्होंने उसे इलाज के लिये वहाँ दाखिल करा दिया।

मानवता के लिये लड़कों की महानता
नर्स ने आगे बताया कि दोनों लड़कों ने बहुत मेहनत की और पैसे कमाये। वे हस्पताल को नियमित पैसे देते थे। क्योंकि Verona में कार्य मिलना मुश्किल था उन्हें काम के लिये दूसरे स्थानों पर जाना पड़ता था। उनकी लग्नशीलता ने वर्णनकर्ता को छू लिया। उनके बिना खुदगर्जी के काम ने मानव जीवन को नवीन महानता प्रदान की। इसने मानव समाज को एक महानतर आशा दी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Free Web Hosting