You cannot copy content of this page

NCERT class 11 English Hornbill Chapter 5 summary The Voice of the Rain (notes) explained (translation) in hindi

The Voice of the Rain Summary In English

The poet asked the soft falling shower who it was. Strangely enough, the shower gave him an answer. The voice of the rain told him that it was the poem of earth. It is everlasting and perpetual. It is something that cannot be touched. It is born out of the land and the deep sea. It rises upward to heaven. There it gets a different form and is altogether changed. Yet it remains the same. Then it comes down to wash the dry/thirsty tiny particles and dust layers of the world. The rain helps the seeds which lie hidden and unborn under the layer of earth to take a new life. This process of rain is perpetual and goes on by day and night. Rain gives back life to its own source of beginning, makes it pure and beautiful. The rain sings a song. This song issues from its birth place. It keeps wandering here and there whether it is paid heed to or not. After accomplishment, the song returns properly with love.

The Voice of the Rain Summary In Hindi

कवि ने वर्षा की हल्के-हल्के गिरती बौछारों से पूछा कि यह कौन थी। अत्यन्त आश्चर्य की बात थी कि बौछार ने उसे उत्तर दिया। वर्षा की आवाज़ ने उसे बताया कि यह धरती का गीत (कविता) थी। यह सनातन तथा अनन्त है। यह स्पर्श द्वारा अनुभव नहीं की जा सकती है। यह पृथ्वी तथा गहरे सागर से जन्म लेती है। यह ऊपर आकाश की ओर चढ़ती है। वहाँ इसे एक अन्य रूप मिल जाता है तथा यह पूर्णतया बदल जाती है। फिर भी यह वह ही रहती है। फिर यह संसार के सूखे/प्यासे छोटे-छोटे कणों तथा रेत-मिट्टी की परतों को नहलाने के लिए नीचे आती है। वर्षा उन बीजों को नया जीवन प्राप्त करने में सहायता करती है जो भूमि की परतों के नीचे छिपे हुए तथा अजन्में पड़े हुए हैं। वर्षा की यह विधि सतत (लगातार) है तथा रात-दिन चलती रहती है। वर्षा अपने उद्गम स्थान को जीवन वापस देती है, इसे पवित्र तथा सुन्दर बनाती है। वर्षा एक गीत गाती है। यह गीत उसके जन्मस्थल से आरम्भ होता है। यह इधर-उधर भटकती (घूमती) रहती है चाहे कोई इसे ध्यान दे अथवा नहीं। अपनी पूर्ति (सिद्धि) करने के पश्चात् गीत उचित प्यार से लौट आता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Free Web Hosting