You cannot copy content of this page

NCERT class 9 English Moments Chapter 9 summary The Accidental Tourist (notes) explained (translation) in hindi

The Accidental Tourist Summary In English

Author’s forgetfulness
The author finds that living in the real world is the most outstanding. Other people do things without any difficulty. But it is not so for him. A number of times he could not find the lavatory in a cinema. He also forgot his room number in a hotel.

Author makes mess at airport
Once the author went on a big trip with his family. It was Easter. They were flying to England for a week. They were checking in Logan Airport in Boston. He remembered then that he had recently joined British Airways’ frequent flyer programme. He also remembered that he had put the card in his carry-on bag. It hung around his neck.

Contents of author’s bag out
The zip on the bag was jammed. He got angry. He pulled at it in anger. The zip gave way. His things Jike the tin of pipe tobacco, magazines, passport, money etc, spread over a large area. He looked at these things in great surprise. He cried at his tobacco. He had got his finger injured. Blood was coming from it. There was a deep wound. He was greatly confused. His wife looked at him in wonder.

Author pinned to the floor
The author was always confused in his air travels. He caused great inconveniences to other passengers. Once he bent over to tie his shoelace. Then someone pushed his seat back. He got pinned on the floor. He had to catch the leg of the man near him.

The author knocks a soft drink on a lady
On another occasion he knocked soft drinks on to the lap of a lady two times. The lady looked at him in surprise. She uttered an oath with ‘Oh’. This was not his worst experience.

When pen leaked while flying
His worst experience was another. On a plane flight he was writing his thoughts. He had his pen in his mouth. It leaked while he was talking to a lady next seat. He went to the toilet. He saw that his mouth, chin, tongue, teeth and gums had got navy blue.

How he flew
The author’s wife cautioned the children on plane flights about the author. He would cut the meat. But it would fly. But when alone, he did not eat or drink. He would sit quietly. This would cut his laundry bills.

Why he couldn’t gather miles
The author did not get his flyer miles in that way. He couldn’t find the card in time. He knew that others were flying first class to Bali with their air miles. But he couldn’t collect anything. He must fly 100,000 miles a year. But he had hardly gathered only about 212 air miles from twenty-three airlines.

This was because he forgot to ask for the air miles. Sometimes the airline didn’t record these. The airline clerk informed him that he was not entitled to them.

Reason for not gathering miles
In January he flew to Australia. He hoped to get about a zillion air miles. But the clerk told him that he was not entitled. He asked the reason. The clerk told that the ticket was in the name of B. Bryson. But the card was in the name of W. Bryson. He explained that both Bill and William were hardly different. But she didn’t accept that.

Result of not gathering miles
Thus, the author didn’t get his air miles. He won’t fly to Bali first class. He could never go that long without eating.

The Accidental Tourist Summary In Hindi

लेखक का भुलक्कड़पन
लेखक पाता है कि वास्तविक संसार में जीवित रहना काफी विशिष्ट है। दूसरे व्यक्ति बिना किसी कठिनाई के कार्य कर लेते हैं। परन्तु वह ऐसा नहीं कर सकता। कई बार वह सिनेमाघर में शौचालय नहीं पा सका। एक होटल में वह अपने कमरे का नम्बर भी भूल गया।

लेखक द्वारा ऐयरपोर्ट में गड़बड़ी उत्पन्न करना
एक बार लेखक अपने परिवार के साथ बड़े दौरे पर गया। ईस्टर का अवसर था। वे एक सप्ताह के लिए इंग्लैण्ड़ जा रहे थे। वे बोस्टन में लोगन हवाई अड्डे में प्रविष्ट हो रहे थे। उसे उस समय ध्यान आया कि वह तभी-तभी ब्रिटिश ऐयरवेज के बार-बार उड्ने के प्रोग्राम में सम्मिलित हुआ था। उसे यह भी याद आया कि उसने कार्ड को अपने बैग में रख दिया था। यह उसकी गर्दन के चारों तरफ लटका हुआ था।

लेखक के बैग का सामान बाहर
बैग की जिप जाम हो गई थी। वह गुस्सा हुआ। उसने इसे गुस्से में खींचा। जिप खुल गई। उसकी चीजें जैसे पाईप तम्बाकू का टिन, मैगजीन, पासपोर्ट, धन आदि काफी दूर तक बिखर गई थीं। उसने इन चीजों को अत्यधिक आश्चर्य से देखा। वह अपने तम्बाकू पर चिल्लाया। उसकी उंगली घायल हो गई थी। उससे खून बह रहा था। घाव गहरा था। वह काफी परेशान था। उसकी पत्नी ने उस पर आश्चर्य से देखा।

लेखक का फर्श पर लगना
लेखक हमेशा हवाई यात्राओं में परेशान हो जाता था। वह दूसरे यात्रियों के लिये भारी परेशानियाँ उत्पन्न कर देता था। एक बार वह जूते के फीते बांधने के लिये नीचे झुका। तब किसी ने अपनी सीट पीछे धकेली। वह फर्श पर लग गया। उसे अपने समीप एक व्यक्ति की टांग पकड़नी पड़ी।

लेखक का एक महिला पर डिंक बिखेरना
एक दूसरे अवसर पर उसने एक महिला की झोली में दो बार ड्रिक बिखेर दी। महिला ने उस पर आचर्य से देखा। उसने ‘ओह’ कह कर एक कसम ली। यह उसका बुरे से बुरा अनुभव नहीं था।

जब उड़ान के समय पैन लीक कर गया।
उसका बुरे से बुरा अनुभव दूसरा था। वायुयान की उड़ान में वह अपने विचार लिख रहा था। उसके मुँह में उसका पैन था। यह लीक कर गया जब वह अगली सीट पर बैठी महिला से बातें करने लग गया। वह शौचालय गया। उसने देखा कि उसका मुँह, ठोड़ी, जीभ, दाँत और मसूढे नेवी के नीले रंग जैसे हो गये थे।

वह कैसे उड़ा
लेखक की पत्नी लेखक के बारे में उड़ानों के दौरान बच्चों को सावधान कर देती थी। वह मांस काटता था। परन्तु यह उड़ जाता था। परन्तु जब वह अकेला होता था तो वह न खाता न पीता था। वह चुपचाप बैठता था। इससे उसके कपड़े धोने के बिल कम हो जाते थे।

वह उड़ान मीलों को इकट्ठा क्यों नहीं कर सका।
उस अवस्था में लेखक को उड़ान मीलें प्राप्त नहीं हो सकीं। उसे समय पर कार्ड नहीं मिल सका। वह जानता था कि दूसरे अपने हवाई मीलों के साथ बाली तक प्रथम श्रेणी उड़ान भर रहे थे। परन्तु उसे कुछ भी नहीं मिला। उसे एक वर्ष में 100,000 मील उड़ना चाहिए। परन्तु उसे कठिनाई से 23 ऐयरलाईनों से 212 हवाई मील ही प्राप्त हुए।

यह इसलिये था कि वह हवाई मीलों के लिये पूछना भूल गया था। कभी-कभी ऐयरलाईन ने इन्हें लिखा भी नहीं था। ऐयरलाईन क्लर्क ने उसे बताया कि वह उनके लिये योग्य भी नहीं था।

मील इकट्ठा न होने का कारण
जनवरी में वह आस्ट्रेलिया तक उड़ा। उसे खरब से ज्यादा हवाई मील प्राप्त होने की आशा थी। परन्तु क्लर्क ने उसे बताया कि वह इसके लिये अधिकृत नहीं था। उसने कारण पूछा। क्लर्क ने बताया कि टिकट बी. ब्रायसन के नाम में था। परन्तु कार्ड डब्ल्यू. ब्रायसन के नाम में था। उसने बताया कि बिल और विलियम एक ही थे। परन्तु उसने इसे स्वीकारा नहीं।

मील इकट्ठा न होने का परिणाम
इस प्रकार लेखक को हवाई मील प्राप्त नहीं हुए। वह प्रथम श्रेणी बाली नहीं उड़ सकेगा। वह इतनी लम्बी हवाई यात्रा बिना खाये कभी भी नहीं कर सकता था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Free Web Hosting